Wednesday, December 30, 2009

ढेर सारे खुशियाँ सब के लियें - happiness from the old year and Happy New Year !!!

कल इस साल का आखरी दिन है. पिछली बातें यादें बन जायेंगे और नईं बातें नए उमीदों पे टिक जायेंगे.पुरानी खुशियाँ रेत की तरह समेटी जायेंगे और नयी साल की शुरुवात रेसोलुतिओंस से भर दीए जायेंगे. ऐसे मैं मेरा दिल तो कुछ और ही कहता है. नाही कोई वादा और नाही कोई सिखवा ,इस्सी के साथ नए साल की स्वागत करती हूँ और कुछ दिनों के लिए दोस्तों से अलविदा लेती हूँ. पता नहीं नयी साल कहाँ बितायुंगी मगर जहाँ कहीं भी रहूंगी आप सबके लिए सुभ कामनाएं जरूर मांगूंगी .


All The Very Best To All :)

सोचो के झीलों का शहर हो, लेहेरों पे अपना एक घर हो.
हम जो देखे सपने प्यारे, सच हो सारे ...बस और क्या :)

enjoy life - make this your slogan for the birth and make your dreams unlimited. Some will definitely come true.

This year I got so many strange mails where people were appreciating my profile and blog. But the best piece I have ever received says - "....U r like...like ....that first flake of snow in winter....soft..smooth... innocent and utterly romantic or if i may term it as Bliss....u r that note which every poet keeps running around for but few pronounce it.... "

I humbly thank all my well wishers. God Bless Them All.

Amen

No comments:

Post a Comment

100 Days in Plano !!

As I pen down my new journey , I will try my best not to hurt anyone or anything , accept what comes my way, learn to live and be the pers...